Gmail में स्‍पैम मेल पर लगेगी लगाम, गूगल करने जा रही AI का इस्‍तेमाल


गूगल जल्द ही AI पावर स्पैम डिटेक्शन सिस्टम जनरेट करने वाला है, जिसके जरिए जीमेल पर आने वाले स्पैम मेल अपने आप अलग हो जाया करेंगे. आपको बता दें स्पैम मेल में अभी तक स्पेशल करेक्टर, इमोजी, टाइपो और दूसरी तिकड़म लगाकर जीमेल के सिक्योरिटी फिल्टर को बायपास करने की कोशिश की जाती थी, लेकिन एक बार जब AI पावर स्पैम डिटेक्शन फिल्टर चालू हो जाएगा तो इस तरह के स्पैम मेल से आपको घबराने की जरूरत नहीं रहेगी. आइए जानते हैं गूगल के AI पावर स्पैम डिटेक्शन फीचर के बारे में विस्तार से.

क्या है RETVec फिल्टर

गूगल अभी तक स्पैम और फिशिंग अटैक को रोकने के लिए Resilient and Efficient Text Vectorizer का उपयोग करता था. जो टेक्स्ट क्लासिफिकेशन के जरिए अनवानटेड मेल को सिलेक्ट करता था. RETVec सिस्टम की मदद से ही गूगल जीमेल, यूट्यूब और गूगल प्ले पर हार्मफुल कंटेट और फिशिंग अटैक को रोकता रहा है. RETVec लुकअप टेबल या निश्चित शब्दावली की आवश्यकता के बिना 100 से अधिक भाषाओं पर आउट-ऑफ-द-बॉक्स काम करता है. इसके अलावा, RETVec एक फिल्टर है, जो प्री-प्रोसेसिंग स्टेप्स के बिना किसी भी TF मॉडल में डाला जा सकता है.
 

फोन और वेब पर यूज कर सकेंगे इसे

जीमेल के इस AI पावर स्पैम डिटेक्शन का यूज आप एंड्रॉयड, IOS और वेब वर्जन पर कर सकेंगे. इस स्पैम डिटेक्शन की मदद से आपके पास अब स्पैम मेल और फिशिंग मेल नहीं आएंगे. वहीं अभी तक जीमेल पर इसकी प्रोटेक्शन के लिए दूसरी लेयर्स काम करती थी, जिसको ये स्पैम मेल बायपास कर सकते थे. गूगल ने एंड्रॉयड यूजर्स के लिए नया सिक्योरिटी कोड रिलीज किया है, कंपनी ने जिसे दिसंबर सिक्योरिटी अपडेट नाम दिया है. गूगल के अनुसार इस सिक्योरिटी कोड में एंड्रॉयड फोन्स की 85 खामियों को ठीक किया गया है, जिसमें सबसे महत्वपूर्ण सीवीई 2023-40088 प्रॉब्लम शामिल है.

यह भी पढ़ें : 

Google Play Store के बीत गए दिन! फोन पे लाने वाला है नया ऐप स्टोर Indus



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.