ये हैं वो 3 कारण जो माइक्रोसॉफ्ट एज ब्राउजर को गूगल क्रोम से बनाते हैं बेहतर


Microsoft Edge vs Google Chrome: आज हमे कुछ भी सर्च करना हो तो हम सभी गूगल ब्राउजर का इस्तेमाल करते हैं. मोबाइल हो या लैपटॉप, हम गूगल के वेब ब्राउजर को ज्यादा प्राथमिकता देते हैं. दुनियाभर में गूगल का वेब ब्राउजर फेमस है और इसका मार्केट शेयर करीब 65% के आस-पास है. वैसे कई मामलों में गूगल का वेब ब्राउजर बाजार में मौजूद दूसरे वेब ब्राउजरों से अच्छा है लेकिन कुछ मामलों में ये उतना बेहतर नहीं है. इस लेख में हम आपको वो 3 कारण बताने वाले हैं जो माइक्रोसॉफ्ट एज ब्राउजर को गूगल क्रोम से बेहतर बनाते हैं.

अगर आपको अपनी प्राइवेसी पसंद है तो आप माइक्रोसॉफ्ट एज ब्राउजर का इस्तेमाल कर सकते हैं क्योकि ये थर्ड पार्टी कुकीज और ट्रैकर्स को अपने आप ब्लॉक कर देता है जिससे आपका डेटा वेबसाइट और एडवटाइजर्स कलेक्ट नहीं कर पाते. 

ये हैं वो 3 कारण 

एनहांस्ड प्राइवेसी और सिक्योरिटी: माइक्रोसॉफ्ट का वेब ब्राउजर अपनी एनहांस्ड प्राइवेसी और सिक्योरिटी के लिए जाना जाता है. ये वेब ब्राउजर अन्य ब्राउजरों की तुलना में थर्ड पार्टी कुकीज और ट्रैकर्स को अपने आप ब्लॉक कर देता है जिससे आपका डेटा वेबसाइट और एडवटाइजर्स कलेक्ट नहीं कर पाते. साथ ही इसमें एक बिल्ट इन ट्रैकर प्रिवेंशन फीचर भी है जिसे आप कस्टमाइज भी कर सकते हैं.

इसके अलावा, एज में कई सिक्योरिटी फीचर भी हैं जो आपको ऑनलाइन थ्रेट से बचाते हैं. जैसे इसमें माइक्रोसॉफ्ट डिफेंडर स्मार्टस्क्रीन शामिल है जो फ़िशिंग और मैलवेयर वेबसाइटों को ब्लॉक करने में मदद करती है. इसके अलावा InPrivate ब्राउज़िंग है जो आपके ब्राउज़िंग हिस्ट्री, कुकीज़ और अस्थायी फ़ाइलों को आपके कंप्यूटर पर सेव होने से रोकती है. इस वेब ब्राउजर में एक साइट आइसोलेशन सुविधा भी है जो आपके द्वारा देखी जाने वाली प्रत्येक वेबसाइट को अपनी प्रक्रिया में अलग करती है, जो दुर्भावनापूर्ण वेबसाइटों को आपके अन्य डेटा तक पहुंचने से रोकने में मदद करती है.

यूजर फ्रेंडली ब्राउजर 

गूगल क्रोम वेब ब्राउजर की तुलना में माइक्रोसॉफ्ट एज ब्राउजर आपको बढ़िया यूजर एक्सपीरियंस प्रदान करता है. इसमें आपको टैब्स को वर्टिकली देखने की सुविधा, रीडिंग मोड, रीडिंग अलाउड समेत दूसरे यूजफुल फीचर मिलते हैं. गूगल क्रोम की तरह यहां भी आपको अलग-अलग तरह के एक्सटेंशंस की सुविधा मिलती है.

विंडोज के साथ इंटीग्रेशन 

जिस तरह गूगल क्रोम ब्राउजर आपको स्मूथ इंटीग्रेशन गूगल डिजिटल इकोसिस्टम के साथ प्रदान करता है, ठीक इसी तरह एज ब्राइजर विंडोज 10 और 11 के लिए डिफ़ॉल्ट ब्राउज़र है और ये इस ऑपरेटिंग सिस्टम के साथ अच्छे से एकीकृत है. ये इंटीग्रेशन आपको अपने विंडोज क्रेडेंशियल्स का उपयोग करके वेबसाइटों में साइन-इन करने, किसी भी विंडोज डिवाइस से अपने माइक्रोसॉफ्ट एज ब्राउज़िंग हिस्ट्री और फेवरेट्स तक पहुंचने और एज हैंड्स-फ्री को नियंत्रित करने के लिए Cortana का उपयोग करने की अनुमति देता है.

यह भी पढ़ें:

OpenAI ने लॉन्च किया SantaGPT, क्रिसमस पर दूर करेगा गिफ्ट की कन्फ्यूजन, सिर्फ ये लोग कर पाएंगे यूज



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.