माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ सत्य नडेला ने 11 गुना कर दिया निवेशकों का पैसा, 10 साल में बदल दी कंपनी की दिशा 


Microsoft CEO: दुनिया की दिग्गज आईटी कंपनी माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ सत्य नडेला (Satya Nadella) 10 साल पहले इस पद पर पहुंचे थे. उनके कंधों पर बड़ी जिम्मेदारी सौंपी गई थी. वह बिल गेट्स (Bill Gates) और स्टीव बाल्मर (Steve Ballmer) जैसे दिग्गजों की जगह लेने जा रहे थे. 4 फरवरी, 2014 को माइक्रोसॉफ्ट का सीईओ बनने के बाद उन्होंने इन 10 सालों में कंपनी और निवेशकों को बहुत मजबूत स्थिति में पहुंचा दिया है. अपने कार्यकाल में सत्य नडेला ने कंपनी के शेयर 1000 फीसदी से भी ज्यादा बढ़ा दिए और माइक्रोसॉफ्ट की मार्केट वैल्यू 3 ट्रिलियन डॉलर की भारी भरकम रकम के पार पहुंचा दी. इस दौरान निवेशकों को भी जबरदस्त फायदा हुआ और उनका पैसा भी 11 गुना से ज्यादा हो चुका है.

क्लाउड कंप्यूटिंग और AI सेक्टर का दिग्गज बना दिया

भारतीय मूल के सत्य नडेला ने कार्यभार संभालने के बाद माइक्रोसॉफ्ट को सॉफ्टवेयर कंपनी से क्लाउड कंप्यूटिंग और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) सेक्टर का दिग्गज बना दिया. फिलहाल माइक्रोसॉफ्ट की मार्केट वैल्यू एप्पल (Apple) जैसी दिग्गज कंपनी से भी ज्यादा हो चुकी है. एसोसिएटेड प्रेस की एक रिपोर्ट के अनुसार, नडेला ने कंपनी को एक बड़े बदलाव के रास्ते पर सफलतापूर्वक डाला. उनके मुकाबले के लिए एप्पल के स्टीव जॉब्स (Steve Jobs) जैसे किसी दिग्गज को फिर से आना होगा. 

शेयरहोल्डर्स के लिए 2.8 ट्रिलियन डॉलर की दौलत बनाई

पिछले एक दशक में सत्य नडेला के नेतृत्व में माइक्रोसॉफ्ट ने शेयरहोल्डर्स के लिए लगभग 2.8 ट्रिलियन डॉलर की दौलत बनाई है. यदि आपने उस समय 10 हजार डॉलर कंपनी के स्टॉक पर लगाए होते तो आज यह रकम 1.13 लाख डॉलर के आंकड़े को पार कर चुकी होती. उन्होंने 10 साल पहले कहा था कि हमारी इंडस्ट्री परंपरा नहीं नए विचारों का सम्मान करती है. उन्होंने अपनी इस बात को आज सच भी साबित कर के दिखाया है. 

सत्य नडेला कब तक संभालेंगे सीईओ का पद 

सत्य नडेला अब 56 साल के हो गए हैं. पिछले साल उन्हें 4.85 करोड़ डॉलर वेतन एक तौर पर मिले. उनके अभी तक के कार्यकाल को देखकर उनके हाल फिलहाल यह पद छोड़ने की कोई आशंका नहीं दिखाई देती. मार्केट में उनकी छवि एक मजबूत सीईओ के तौर पर बनी है. वह फिलहाल अपने पद और कंपनी को आगे बढ़ता देखकर खुश हैं. लोग चाहते हैं कि सत्य नडेला आने वाले कुछ और सालों तक यह पद संभालें.

ये भी पढ़ें 

RBI Action: आरबीआई ने कैंसिल किया इस बैंक का लाइसेंस, लोगों का पैसा वापस करने की स्थिति नहीं   



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.