पेटीएम पेमेंट्स बैंक का लाइसेंस कैंसिल करने पर आरबीआई का विचार? खबरों से बेअसर पेटीएम के स्टॉक में 10% उछाल


Paytm Stock: रेगुलेटरी एक्शन के बाद संकट में फंसी कंपनी पेटीएम के शेयरों में आज 10 फीसदी का उछाल देखा जा चुका है. पेटीएम की पेरेंट कंपनी वन 97 कम्यूनिकेशंस लिमिटेड के शेयरों में आज 496.75 रुपये का भाव सुबह बाजार में कारोबार खुलने के थोड़ी देर के भीतर ही देखा जा चुका था. पेटीएम का शेयर आज 45.15 रुपये प्रति शेयर के गेन के साथ 496.75 के हाई लेवल को छू चुका है. सुबह साढ़े दस बजे ये शेयर 491.30 रुपये पर ट्रेड कर रहा है.

पेटीएम पेमेंट्स बैंक का लाइसेंस कैंसिल करने पर आरबीआई का विचार- मनीकंट्रोल

मनीकंट्रोल डॉटकॉम की रिपोर्ट के मुताबिक भारतीय रिजर्व बैंक इस समय संकट में फंसी पेटीएम पेमेंट्स बैंक के लाइसेंस को कैंसिल करने पर भी विचार कर रहा है. आरबीआई ने पेटीएम पेमेंट्स बैंक को कारोबार बंद करने और ट्रांजेक्शन का सेटलमेंट करने के लिए 15 मार्च 2024 की डेडलाइन दी हुई है जिसके बाद इस एक्शन को लिया जा सकता है. मनीकंट्रोल को सूत्रों के हवाले से ये खबर मिली है कि इस समय की आरबीआई की मंशा तो यही है. अगर ये खबर पूरी तरह सच है तो वित्तीय दिक्कतों में फंसी पेटीएम के लिए परेशानियां और बढ़ने का संकेत मिल चुका है. सूत्र का ये भी कहना है कि आने वाले कुछ ही दिनों में देश का केंद्रीय बैंक इस कदम को लेकर फैसला ले सकता है.

पेटीएम पेमेंट्स बैंक को मिला है 15 मार्च तक का वक्त

आरबीआई ने पेटीएम पेमेंट्ल बैंक को पाइपलाइन में मौजूद सभी ट्रांजेक्शन और नोडल अकाउंट्स को 15 मार्च तक सेटल करने के लिए कहा है और निर्देश दिया है कि इस तारीख के बाद कोई ट्रांजेक्शन ना किया जाए. सूत्रों के मुताबिक रिजर्व बैंक पेटीएम पेमेंट्स बैंक के बोर्ड को हटाने के विकल्प पर भी विचार कर रहा है. 

पेटीएम के सीईओ की वित्त मंत्री से मुलाकात की खबरें

पेटीएम के प्रमोटर विजय शेखर शर्मा ने 6 फरवरी को कथित तौर पर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण से मुलाकात की है. इस खबर को कंफर्म नहीं किया गया है. वहीं इससे पहले, पेटीएम के शीर्ष अधिकारियों ने आरबीआई अधिकारियों के साथ भी चर्चा की थी. 

ये भी पढ़ें

Stock Market Opening: शेयर बाजार में जोरदार तेजी, सेंसेक्स 72500 के ऊपर निकला, निफ्टी 22 हजार के पार खुला



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.