पेटीएम की मुश्किलों से निकलने की कोशिशें, सीईओ विजय शेखर और अधिकारियों ने आरबीआई से मिलकर की ये गुजारिश


Paytm Crisis: आरबीआई ने 31 जनवरी को पेटीएम पेमेंट्स बैंक के खिलाफ एक्शन क्या लिया, पेटीएम और इसके अधिकारियों-निवेशकों के बीच हड़कंप मच गया. आज इस घटना को छह दिन हो चुके हैं और फिनटेक कंपनी का संकट जारी है. आरबीआई के आदेश के बाद पेटीएम के फाउंडर और सीईओ- एमडी विजय शेखर शर्मा ने कुछ अधिकारियों के साथ रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के साथ मुलाकात की है. देश के केंद्रीय बैंक (आरबीआई) के साथ पेटीएम के ऑफिशियल्स ने मिलकर इस बात की गुजारिश की है कि आरबीआई ने जिन रेगुलेटरी चिंताओं को उजागर किया है उनके बारे में आगे का रोडमैप क्या हो- इस पर बात की जाए. रॉयटर्स की खबर के मुताबिक ये जानकारी सामने आई है.

पेटीएम कर रहा है आरबीआई से आग्रह

खबरों के मुताबिक पेटीएम लगातार इस बात का आग्रह कर रहा है कि उसे 29 फरवरी से आगे का टाइम एक्सटेंशन दिया जाए. हालांकि इस बैठक में क्या सुधार के कदम लिए गए या आरबीआई और पेटीएम के बीच क्या बात हुई, इसका कोई स्पष्ट जवाब सामने नहीं आया है. बैंकिंग रेगुलेटर आरबीआई ने इस बारे में कोई जानकारी नहीं दी कि मीटिंग में कोई राहत के कदम लिए गए हैं या नहीं. 

31 जनवरी को आरबीआई ने उठाया पेटीएम के खिलाफ कदम

आरबीआई ने 31 जनवरी को देश के सबसे पुराने ऑनलाइन पेमेंट ऐप पेटीएम से जुड़े पेटीएम पेमेंट्स बैंक के ऊपर एक्शन लिया है. इसने पेटीएम पेमेंट्स बैंक से कस्टमर अकाउंट्स, वॉलेट, FASTags, प्रीपेड इंस्ट्रूमेंट्स, NCMC कार्डों में डिपॉजिट, ट्रांजेक्शन, प्रीपेड उपकरणों और टॉप-अप को रोकने के लिए कहा है. हालांकि पेटीएम यूजर्स को बिना किसी प्रतिबंध के अपने खाते से बची रकन निकालने या इस्तेमाल करने की अनुमति दी गई है.

कंपनी के ऊपर या विजय शेखर पर ईडी की जांच नहीं- पेटीएम

इन 6 दिनों के दौरान पेटीएम लगातार नए-नए स्पष्टीकरण जारी कर रहा है और बता रहा है कि कंपनी के एमडी और कंपनी के ऊपर कोई ईडी की जांच नहीं चल रही है. ना ही पेटीएम ने किसी तरह से फेमा नियमों का उल्लंघन किया है. हालांकि कल दिन में जब ये खबर आई कि मुकेश अंबानी की जियो फाइनेंशियल सर्विसेज की पेटीएम के वॉलेट कारोबार को खरीदने की बात चल रही है, तो ये बड़ी खबर बन गई और इस खबर के दम पर जियो फाइनेंस के शेयर 14 फीसदी तक ऊपर चढ़ गए. हालांकि देर रात जब जियो फाइनेंस और पेटीएम दोनों ने इस बात से इंकार कर दिया तो बाजार खुलने के बाद जियो के शेयर नीचे आ गए जबकि पेटीएम के शेयरों में 5 फीसदी तक का इजाफा देखा गया है.

ये भी पढ़ें

HDFC Bank ग्रुप इंडसइंड और यस बैंक समेत इन 6 बैंकों में खरीदेगा 9.5 फीसदी हिस्सेदारी, RBI ने दी मंजूरी



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.