पाप से मुक्ति दिलाएगा एकादशी का ये व्रत, जरुर कर लें यह उपाय


Papmochini Ekadashi 2024: पापमोचनी एकादशी का व्रत एकादशी के व्रतों में एक बहुत ही महत्वपूर्ण व्रत है. इस व्रत को एकादशी के व्रत में सर्वश्रेष्ठ माना गया है. इस दिन व्रत कर आप अपने पापों की क्षमा मांग सकते हैं और भगवान विष्णु को प्रसन्न कर सकते हैं. 

साल 2024 में पापमोचनी एकादशी का व्रत 5 अप्रैल 2024, शुक्रवार के दिन रखा जाएगा. पापमोचनी एकादशी का व्रत चैत्र माह के कृष्ण पक्ष की एकादशी के दिन रखा जाता है. इस दिन श्रृद्धा पूर्वक भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी की आराधना करें और अपने भूल से हुए पाप के लिए क्षमा मांगे.

पापमोचनी एकादशी 2024 उपाय (Papmochini Ekadashi 2024 Upay)

  • पापमोचनी एकादशी के दिन तुलसी पूजन का बहुत महत्व है.
  • इस दिन संध्या के समय गाय के घी का चौमुखी दीपक तुलसी के पौधे के नीचे जलाएं.
  • इस दिन विष्णु सहस्त्रनाम का पाठ जरूर करें.
  • पापमोचनी एकादशी के दिन चावल का दान करें.
  • इस दिन एकादशी व्रत की पूजा के समय दीपक के नीचे चावल रखें, दीपक के पूरा जलने के बाद चावल को लाल पोटली में बांधकर तिजोरी में रख लें. ऐसा करने से लक्ष्मी जी की कृपा आप पर हमेशा बनी रहती है और धन्य-धान्य की जीवन में कमी नहीं होती.
  • पापमोचनी एकादशी के दिन तुलसी के पेड़ पर सुबह पति-पत्नी एक साथ तुलसी के पौधे पर कलावा बांधे, इससे शादीशुदा रिश्ते अच्छे तलते हैं. जीवन में सुख-शांति और प्रेम बढ़ता है. अगर किसी शादीशुदा जोड़े के जीवन में गृह कलेश की समस्या आ रही हो तो पापमोचनी एकादशी के दिन इस उपाय को जरुर करें.

साल में एकदाशी के कुल 24 व्रत होते हैं. हर महीने 2 एकादशी पड़ती है, पहली कृष्ण पक्ष में और दूसरी शुक्ल पक्ष में. पापमोचनी एकादशी का व्रत चैत्र माह के कृष्ण पक्ष में रखा जाता है. एकादशी की तिथि भगवान विष्णु को बहुत प्रिय होती है. इसीलिए इस दिन व्रत करने से आपको श्री हरि विष्णु भगवान की कृपा प्राप्त होती और उनका आशीर्वाद आप पर सदैव बना रहता है.

Papmochani Ekadashi 2024: पापमोचिनी एकादशी की सही डेट और पूजा मुहूर्त, यहां जानें

Disclaimer: यहां मुहैया सूचना सिर्फ मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. यहां यह बताना जरूरी है कि ABPLive.com किसी भी तरह की मान्यता, जानकारी की पुष्टि नहीं करता है. किसी भी जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से सलाह लें.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *