कल से श्रीलंका और मॉरीशस में भी होंगे यूपीआई ट्रांजेक्शन, पीएम मोदी करेंगे लॉन्च 


Sri Lanka and Mauritius: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को श्रीलंका और मॉरीशस के लिए यूपीआई सर्विस को लॉन्च करेंगे. इसके साथ ही इन दोनों देशों में भी यूपीआई (UPI) और रुपे कनेक्टिविटी (RuPay Connectivity) मिल जाएगी. इसे यूपीआई को ग्लोबल बनाने की दिशा में बड़ा कदम माना जा रहा है. पीएम मोदी सुबह एक बजे इन दिनों के लिए इन सर्विसेज की शुरुआत करेंगे. इससे भारतीय पर्यटकों को इन दोनों देशों में बड़ी सहूलियत हो जाएगी. हाल ही में फ्रांस की राजधानी पेरिस में स्थित एफिल टावर पर भी यूपीआई की सर्विस शुरू की गई थी. फ्रांस इस सेवा को धीरे-धीरे पूरे देश में लागू करने वाला है. 

पर्यटकों को होगी सबसे ज्यादा सुविधा 

विदेश मंत्रालय से मिली जानकारी के अनुसार, इस लॉन्च के बाद यूपीआई सर्विस (Unified Payment Interface) श्रीलंका और मॉरीशस में शुरू हो जाएगी. इस सेवा के जरिए इन दोनों देशों में जाने वाले भारतीय पर्यटक और भारत आने मॉरीशस के नागरिक भी फायदे में रहेंगे. मॉरीशस के लिए रुपे कनेक्टिविटी भी शुरू की जाएगी. आरबीआई ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर लिखा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, श्रीलंका के राष्ट्रपति रानिल विक्रमसिंघे (Ranil Wickremesinghe) और मॉरीशस के पीएम प्रविंद जगन्नाथ (Pravind Jugnauth) वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए जुड़कर इस लॉन्चिंग कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे. आरबीआई के यूट्यूब चैनल पर इसका सीधा प्रसारण देखा जा सकता है. 

मॉरीशस में रुपे कार्ड सर्विसेज शुरू होंगी 

विदेश मंत्रालय ने बताया कि मॉरीशस में रुपे कार्ड सर्विसेज शुरू हो जाने के बाद रुपे कार्ड (RuPay Card) का इस्तेमाल भारत के साथ-साथ मॉरीशस में भी किया जा सकेगा. भारत फिनटेक क्रांति का लीडर बनकर उभरा है. देश में डिजिटल इंफ्रास्ट्रक्चर मजबूत हो चुका है. पीएम मोदी इस यूपीआई सर्विस को सहयोगी देशों तक पहुंचाने की पुरजोर कोशिश कर रहे हैं. श्रीलंका और मॉरीशस के साथ भारत के सांस्कृतिक एवं सामाजिक रिश्ते हैं. इस लॉन्च से दोनों तरफ के लोगों को सीमा पार डिजिटल ट्रांजेक्शन की सुविधाएं मिल सकेंगी. साथ ही इन देशों के साथ भारत की डिजिटल कनेक्टिविटी भी बढ़ेगी.

बहरीन में शुरू हुआ डिजिटल फी कलेक्शन कियोस्क

हाल ही में 7 फरवरी को बहरीन में भारतीय दूतावास ने एक डिजिटल फी कलेक्शन कियोस्क शुरू किया था. इसके लिए आईसीआईसीआई बैंक और सदद इलेक्ट्रॉनिक पेमेंट सिस्टम बीएससी ने भारतीय दूतावास के साथ हाथ मिलाए हैं. यह एक सेल्फ सर्विस टच स्क्रीन कियोस्क है. इससे बहरीन में रहे लगभग 3.40 लाख भारतियों को लाभ पहुंच रहा है. अब वह अपने डेबिट या क्रेडिट कार्ड से पासपोर्ट रिन्यूअल, अटेस्टेशन, मैरिज रजिस्ट्रेशन और बर्थ रजिस्ट्रेशन की फीस का भुगतान कर पा रहे हैं.

ये भी पढ़ें 

Rozgar Mela: एक लाख लोगों को रिक्रूटमेंट लेटर देंगे पीएम मोदी, 47 जगहों पर लगेगा रोजगार मेला  





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.