ईशान किशन की हरकत के बाद सख्ते में बीसीसीआई, सभी खिलाड़ियों पर कसा जायेगा शिकंजा


Ishan Kishan: भारतीय टीम के युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ईशान किशन फर्स्ट क्लास क्रिकेट कम खेले हैं. ईशान किशन के आलोचकों का मानना है कि वह फर्स्ट क्लास क्रिकेट खेलना नहीं चाहते, उनका फोकस महज आईपीएल खेलने पर होता है. लेकिन अब बीसीसीआई कड़ा फैसला लेने के मूड में है. दरअसल, आईपीएल में भारतीय खिलाड़ियों के खेलने के लिए बीसीसीआई कुछ फर्स्ट क्लास मैचों में खेलना अनिवार्य कर सकता हैं. यानी, आईपीएल में खेलने से पहले भारतीय खिलाड़ियों को फर्स्ट क्लास मैचों में खेलना होगा, जिसके बाद वह आईपीएल में खेल पाएंगे.

इस वजह से सख्त एक्शन के मूड में बीसीसीआई…

ऐसा कहा जा रहा है कि बीसीसीआई ने ईशान किशन से रणजी ट्रॉफी में राजस्थान के खिलाफ खेलने के लिए कहा था. लेकिन ईशान किशन खेलना नहीं चाहते. झारखंड और राजस्थान के बीच यह मैच 16 फरवरी से खेला जाना है. बहरहाल, इसके बाद बीसीसीआई सख्त नियम बनाने के मूड में है. आईपीएल खेलने से पहले भारतीय खिलाड़ियों को फर्स्ट क्लास मैचों में खेलने होंगे, वरना वह आईपीएल में नहीं खेल पाएंगे. भारतीय टीम फिलहाल इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज खेल रही है. ईशान किशन भारत-इंग्लैंड टेस्ट सीरीज का हिस्सा नहीं हैं.

आईपीएल में मुंबई इंडियंस के लिए खेलते हैं ईशान किशन

बताते चलें कि आईपीएल में ईशान किशन मुंबई इंडियंस का प्रतिनिधित्व करते हैं. मुंबई इंडियंस ने भारी-भरकम राशि खर्च कर ईशान किशन को अपने साथ जोड़ा था. आलोचकों का मानना है कि ईशान किशन समेत युवा खिलाड़ी फर्स्ट क्लास और डोमेस्टिक मैचों के बजाय महज आईपीएल खेलने पर तवज्जों देते हैं. ईशान किशन के अलावा हार्दिक पांड्या चोट से जूझ रहे हैं, लेकिन ऐसा माना जा रहा है कि वह आईपीएल सीजन शुरू होने से पहले फिट हो जाएंगे. पिछले दिनों मुंबई इंडियंस ने गुजरात टाइटंस से हार्दिक पांड्या को ट्रेड किया था. वहीं, इसके बाद रोहित शर्मा की जगह हार्दिक पांड्या को टीम का कप्तान बनाया गया.

ये भी पढ़ें-

IND vs ENG: विराट कोहली, हार्दिक पांड्या से केएल राहुल तक… इन बड़े खिलाड़ियों के बिना अंग्रेजों से लड़ रही है टीम इंडिया

IPL 2024: दिल्ली कैपिटल्स को पहली बार आईपीएल चैंपियन बनाएंगे डेविड वॉर्नर! विपक्षी गेंदबाजों के लिए आफत बना यह बल्लेबाज



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.